मुगल सम्राट अपनी बेटियों की इसलिए नहीं करते थे शादी, कारण जानकर होगी हैरानी

 कारण जानकर होगी हैरानी

पूरा पड़ने के निचे क्लिक करे 👇👇




मुगल साम्राज्य का नाम जरूर सुना होगा मुगल साम्राज्य एक ऐसा साम्राज्य था जिसने लगभग भारत में 500 सालों तक राज किया था दोस्तों 500 सालों में मुगल साम्राज्य के कई शासकों ने भारत में लूटपाट मचाई तो कुछ निर्माण कार्य भी किए थे। वैसे देखा जाए तो मुगल शासन काल में कई शासकों ने भारतीय राजाओं से कई प्रकार के संबंध भी स्थापित किए थे।




मुगल साम्राज्य के अनेक राजाओं ने भारतीय राजाओं के साथ वैवाहिक संबंध भी स्थापित किए थे और भारतीय राजाओं की पुत्रियों के साथ शादी किए थे। लेकिन दोस्तों क्या आप जानते थे, भारत में राज करने वाले मुगल साम्राज्य की अधिकतर शासक अपनी बेटियों की शादी भारत के किसी भी राजा के साथ नहीं करते थे। लेकिन आखिर मुगलों ने भारत में अपनी बेटियों का विवाह बहुत कम क्यों किया था, इसके बारे में आज हम आप लोगों को बताने वाले हैं।









दरअसल कुछ इतिहासकारों का मानना है कि भारत में जब मुगल साम्राज्य का शासन चल रहा था, तब पूरे भारत के चारों तरफ मुगल साम्राज्य के शासक का ही शासन चल रहा था, जिसके कारण मुगल सम्राट के सामने किसी भी राजा की आंख में आंख मिला कर बात करने की हिम्मत नहीं होती थी। उस समय जितने भी शासक भारत में कार्य करते थे, वे सभी मुगल शासक के नीचे कार्य करते थे।

Breaking News : सुप्रीम कोर्ट का ऐतिहासिक फैसला, अयोध्या में मंदिर भी बनेगा और मस्जिद भी पड़े कैसे होगा ..




इसलिए भारत में जो मुगल सम्राट हुए अपनी बेटियों का विवाह सिर्फ सम्राट के साथ ही करना चाहते थे, वह किसी अन्य राजा के साथ अपनी बेटियों का विवाह करने पर अपने आप को कमजोर महसूस करते थे। इतिहासकारों का मानना है कि कुछ मुगल सम्राट मानते थे कि यदि वे अपने से किसी नीचे पद वाले व्यक्ति के साथ अपनी बेटियों की शादी करेंगे, तो उन लोगों के सामने उन्हें झुकना पड़ेगा, जो मुगल की शान के खिलाफ है इसलिए मुगलों की ज्यादातर बेटियां अविवाहित रह गई।




News : अयोध्या का फैसला आने पर इन मुस्लिम अभिनेताओं से नहीं थी ऐसे व्यवहार की उम्मीद, किया निराश


Previous Post
Next Post
Related Posts